पहले ही दिन 80 फ्लाइट हुई रद्द, मुसाफिर हुए परेशान

0
408

नईदिल्ली/पूजा शर्मा। सोमवार से राष्ट्रीय राजधानी के इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट (IGI Airport) से घरेलू उड़ानों की शुरुआत हो चुकी है. आज रवाना होने वाली कुल 332 फ्लाइटों में से 80 फ्लाइट रद कर दी गई हैं. बता दे कि केंद्रीय उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri) ने रविवार को सूचना देते हुए ये ऐलान किया था कि 25 मई से देश भर में घरेलू विमानों की शुरुआत हो जाएगी. वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के कारण भारत में 25 मार्च से लॉकडाउन लागू है. इसके तहत सभी घरेलू विमानों को भी रोक दिया गया था.

आज से शुरू हुई घरेलू उड़ान, इन राज्यों में कर सकेंगे सफर

सुबह से ही शुरू हुआ यात्रियों का तांता

आज तड़के ही 4.45 बजे से इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट से महाराष्ट्र के पुणे के लिए पहली उड़ान रवाना हुई. बता दें कि सुबह दस बजे तक अहमदाबाद, बंगलुरू, चैन्नई, मुंबई से सात विमानों की लैंडिंग आइजीआइ एयरपोर्ट पर हुई है. बता दें कि इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट के टर्मिनल 3 से देश के विभिन्न जगहों के लिए अलग-अलग एयरलाइंस के लिए अलग- अलग प्रवेश द्वार बनाए गए हैं. साथ ही यात्रियों के लिए फूड स्टॉल भी खुल चुके हैं.

सावधानी के पुख्ता इंतजाम

एयरपोर्ट ऑथोरिटी ऑफ इंडिया (Airports Authority of India) की तरफ से पहले ही सभी एयरपोर्ट के लिए एसओपी (SOP) जारी कर दिया था. जिसके तहत कोरोना से बचाव के लिए सावधानियों और नियमों का सख्ती से पालन करने को कहा गया. साथ ही ये भी कहा गया कि यात्रियों के लिए बैठने की व्यवस्था इस तरह सुनिश्चित कराई जाए ताकि शारीरिक दूरी का पालन हो सके. इसके लिए यात्रियों के बीच एक कुर्सी रखी गई जिसपर उचित तरीके से टेप/निशान आदि लगाया गया है.

देखिए दुनिया भर में कैसे तय होती है EID की तारीख

यात्रा के बाद क्वारंटाइन होगा जरूरी

केंद्रीय उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri) के इस फैसले पर कई राज्यों ने नाराजगी व्यक्त की है और कहीं क्वारंटाइन किया जाना ही मसला बना हुआ है. महाराष्ट्र, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल और छत्तीसगढ़ ने घरेलू फ्लाइटों के शुरू होने पर अपनी आपत्तियां जतानी शुरू कर दी है. हालांकि केंद्रीय उड्डयन मंत्री ने पहले कहा था कि बगैर लक्षणों वाले यात्रियों के आरोग्य सेतु एप की जांच करने के बाद जाने की अनुमति दे दी जानी चाहिए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here