बॉलीवुड के एक वो अभिनेता, जिनके काले कपड़े पहनने पर कोर्ट ने लगा दी थी रोक!

0
171
Dev Anand Pratibimb news
Dev Anand Pratibimb news

नई दिल्ली/ दीक्षा शर्मा। फिल्म जगत के सदाबहार अभिनेता देवानंद को शायद ही अभी तक किसी बॉलीवुड एक्टर में टक्कर दी हो. वैसे तो बॉलीवुड में कई हीरो आए और गए, लेकिन देवानंद जैसा कोई एक्टर नहीं आया. उन्होंने अपनी एक्टिंग की एक ऐसी मिसाल कायम की है जो आने वाले समय में शायद ही कोई कर पाए. देवानंद अपने दौर के बेहतरीन अभिनेता में से एक थे. उनकी एक्टिंग के साथ साथ सब उनके फ़ैशन और पहनावे के भी दीवाने थे. लोग उनकी एक झलक पाने के तरसते थे.फिर आखि़र क्यों कोर्ट ने काले कपड़े पहनने पर रोक लगा दी?

ये भी पढ़ें बॉलीवुड को एक और झटका, जगदीप उर्फ सूरमा भोपाली नहीं रहे

आखि़र क्यों काले कोर्ट पर रोक

भले ही सुनने में आपको यह बात बहुत अजीब लगे, लेकिन यह सच है कि देवानंद के काले रंग के पहनावे पर कोर्ट ने पाबंदी लगा दी थी. दरअसल, कोर्ट ने मजबूरन सदाबहार अभिनेता देवानंद के काले कपड़े पहनने पर रोक लगाई थी. हुआ यह था कि अक्सर देवानंद सफ़ेद टी- शर्ट और ऊपर से काला कोर्ट पहना करते थे. इस पहनावे में उनका एक अलग ही रूप उभर कर आता था. उनकी एक्टिंग के साथ साथ पूरी दुनिया उनके इस रूप के लिए पागल थी. उनके फैंस और तमाम लोग उन्हें व्हाइट टी शर्ट और ब्लैक कोर्ट में देखने को बेकरार रहते थे. अगर किसी ने उन्हें ब्लैक कोर्ट में देख लिया तो बस उन्हें है देखता रह जाता था. वहीं लड़कियों की देवानंद को ब्लैक कोर्ट में देखने की दीवानगी अलग ही थी.

ये भी पढ़ें जब सबकी पसंद सरदार पटेल थे, तो नेहरु क्यों बने आज़ाद भारत के पहले प्रधानमंत्री?

छत से छलांग लगाने को तैयार

उनके फैंस और तमाम लड़कियां उन्हें ब्लैक कोर्ट में देखने को तरसते थे. ऐसा पागलपन था कि वह अपनी जान भी दाव पर लगा देती थी.फिर धीरे धीरे समय के साथ देवानंद के लिए काला कोर्ट पहनना एक बड़ी समस्या बन गया था क्योंकि लड़कियां अपनी जान देने के लिए तैयार थी. कहते हैं ना कि ऐसी “दीवानगी पहले देखी नहीं”.. बस इसी समस्या के समाधान के लिए कोर्ट को देवानंद और उनके चाहने वालों के बीच आना पड़ा.
फिर उसी दौरान देवानंद मी फिल्म कला पानी रिलीज हुई. तभी कोर्ट ने आदेश दिया कि देवानंद अब ब्लैक कोर्ट नहीं पहनेंगे. उनके काला कोर्ट पहनने पर बनेट लगा दिया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here