Astrology : जीवन में इन 5 चीजों का न करें लेन देन, रुठ सकता है भाग्य

0
219

नई दिल्ली/पूजा शर्मा। मनुष्य अपनी रोजमर्रा की जिंदगी में कई ऐसी चीजों का लेन देन अक्सक करता है जिसका असर उसके जीवन पर पड़ता है लेकिन उसे इसकी कोई जानकारी नहीं होती है. ज्योतिष (Astrology) के अनुसार हर चीज की अपनी ऊर्जा होती है. कुछ में सकारात्मक तो कुछ चीजों में नकारात्मक ऊर्जा भी होती है जिसके चलते आपको इन चीजों के लेन देन से नुकसान हो सकता है. हालांकि किसी की मदद करना अच्छी बात होती है लेकिन कुछ चीजों के लेन देन से परहेज बहुत जरुरी है. इसलिए ज्योतिष (Astrology) कहते है कि हो सके तो कुछ चीजों के लेन देन से बचना चाहिए. हम आपको बताते है कि वो कौन सी चीजें है जिनको न लेना चहिए और न देना.

कलम

मनुष्य के जीवन में कलम (लेखनी ) का बहुत महत्व होता है. ज्योतिष (Astrology)के अनुसार किसी को अपना पेन न दें और न ही किसा से पेन उधार लें. अगर आप किसी को अपना पेन देते हैं तो लेना न भूलें. यह आपकी तरक्की में बाधा बन सकता है साथ ही मान-सम्मान में कमी आती है.

घड़ी

हम लोग कई बार आपस में घड़ी का अदान-प्रदान भी करते हैं लेकिन ऐसा नहीं करना चाहिए, क्योंकि घड़ी को व्यक्ति के अच्छे और बुरे दोनों समय से जोड़कर देखा जाता है. इसलिए कहा जाता है कि अगर आप किसी को अपनी घड़ी देते हैं और आपका अच्छा समय चल रहा है तो आपका अच्छा समय उस व्यक्ति के पास जा सकता है और अगर आप किसी से घड़ी लेते हैं और अगर उस व्यक्ति का बुरा वक्त चल रहा है तो उसका खराब समय आपके पास आ सकता है. इसलिए घड़ी के लेन देने से बचना चहिए.

कंघी

भुल कर भी कभी दूसरों के कंघे का उपयोग नहीं करना चाहिए. स्वास्थ के लिहाज से भी दूसरों का कंघा इस्तेमाल करना अच्छा नहीं रहता है. कंघे से संबंधित कोई भी सामाग्री लेने या देने से भाग्य पर विपरीत असर पड़ सकता है इसलिए कंघे के साथ सर से जुड़ी अन्य चीजों के लेन-देन से बचना चाहिए.

कपड़े

ज्योतिष (Astrology) के अनुसार हमें किसी से कपड़े उधार मांग कर नहीं पहनने चाहिए. न ही किसी के कपड़े देना चाहिए शास्त्रों में भी इसकी मनाही है. और स्वास्थ के लिए भी यह अच्छा नहीं रहता है. शास्त्रों के हिसाब से किसी के कपड़े पहनने से भाग्य रुठ जाता है और कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है. इसलिए किसी के कपड़े न ही पहनने चहिए न ही देने चहिए.

अंगूठी

आमतौर पर अंगूठी तो सभी पहनते हैं चाहे स्त्री हो या पुरुष अक्सर उनके हाथ में एक अंगूठी तो देखने को मिल ही जाती है. ऐसे में हम दूसरे से अंगूठी बदल लेते हैं. लेकिन हमें न किसी की अंगूठी पहननी चाहिए, न ही अपनी अंगूठी किसी को देनी चाहिए इससे जीवन में मुश्किलें आती हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here