सावधान! 120 की रफ्तार से आ रहा है निसर्ग तूफान

0
202
cyclone nisarga
cyclone nisarga

नई दिल्ली/काजल गुप्ता। भारतीय मौसम विभाग के अनुसार चक्रवाती तूफान निसर्ग आज दोपहर में यह महाराष्ट्र के पालघर और मुंबई में समुन्द्र तट से टकरा सकता है. चक्रवाती तूफ़ान निसर्ग के रफ्तार पकड़ ली है. चक्रवाती तूफ़ान के हवा की रफ्तार 100 किलोमीटर प्रति घंटा तक पहुंच चुकी है. यह तूफान अभी मुंबई से 200 किलोमीटर की दूरी पर है. पिछले एक घंटे में 85 से 95 किलोमीटर से बढ़कर 60 किलोमीटर प्रतिघंटा हो गई है. मौसम विभाग ने मुंबई में हाई टाइड के आने की संभावना जताई है. मुंबई में तूफान के मद्देनजर धारा 144 लागू कर दी गई है और लोगों से घर के अंदर रहने की अपील की गई है. हवाएं और समंदर में उठने वाली 6 फीट ऊंची लहरें मुंबई को फिर से पानी-पानी कर सकती हैं.

मुंबई से सिर्फ 94 किलोमीटर दूर

मुंबई मौसम विभाग के मुताबिक चक्रवाती तूफान निसर्ग अलीबाग से 95 किलोमीटर और मुंबई से 150 किलोमीटर दूर है. मुंबई मौसम विभाग के मुताबिक यह थोड़ी देर में तेज रफ्तार से समुद्र तट से टकरा सकता है. तूफान के समय 6 फीट ऊंची लहरें उठ सकती हैं. हालांकि, मुंबई निसर्ग की मुसीबत से निपटने के लिए तैयार है. 80 हजार लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है. एनडीआरएफ (NDRF) की सेनाओं को तैनात कर रखा है.

महाराष्ट्र में एनडीआरएफ की टीमें तैनात

महाराष्ट्र में चक्रवाती तूफ़ान निसर्ग से निपटने के लिए एनडीआरएफ की 20 टीमें तैनात की गई है. इसमें मुंबई में 8 टीमें, रायगढ़ में 5 टीमें, पालघर में 2 टीमें, थाने में 2 टीमें, रत्नागिरी में 2 टीमें और सिंधूदुर्ग में 1 टीम की तैनाती है. वहीं, कुछ टीमों को स्टैंडबाई पर रखा गया है.

गुजरात में 47 गांव करवाए गए खाली

गुजरात में चक्रवाती तूफान निसर्ग से निपटने की तैयारियों के बीच, वलसाड और नवसारी जिला प्रशासनों ने राज्य के तटीय क्षेत्रों में स्थित 47 गांवों से करीब 20 हजार लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाना शुरू कर दिया है. मौसम विभाग ने मंगलवार को संकेत दिया कि हो सकता है कि चक्रवाती तूफान गुजरात तट पर न पहुंचे. हालांकि इसका प्रभाव तटीय क्षेत्रों में तेज हवाओं और भारी बारिश के रूप में सामने आ सकता है.

कई ट्रेनों का मार्ग और समय बदला गया.

चक्रवाती तूफान ‘निसर्ग’ के आज दोपहर महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले के अलीबाग पहुंचने से पहले मध्य रेलवे ने मुंबई से कुछ ट्रेनों के मार्गों को बदला है और कुछ के समय में परिवर्तन किया है। मध्य रेलवे (सीआर) ने कहा कि मुंबई से चलने वाली पांच विशेष ट्रनों का समय बदला गया है और तीन विशेष ट्रेनों का मार्ग को बदला जाएगा। इसमें कहा गया है कि बदलाव के बाद एलटीटी- गोरखपुर स्पेशल अब सुबह 11 बजकर 10 मिनट की बजाय रात आठ बजे रवाना होगी। एलटीटी- तिरुवनंतपुरम विशेष सुबह 11 बजकर 40 की बजाय शाम छह बजे और एलटीटी-दरभंगा विशेष दोपरह सवा 12 की बजाय रात साढ़े आठ बजे रवाना होगी.

मुंबई तट पर 129 साल बाद चक्रवाती तूफान

129 साल बाद मुंबई के समुद्री तट पर चक्रवात आ रहा है। मौसम विभाग के साइक्लोन ई-एटलस के अनुसार 1891 में समुद्री तूफान आया था। उसके बाद पहली बार अरब सागर में महाराष्ट्र के तटीय इलाके के आसपास समुद्री तूफान की स्थिति बनी है.

बता दे कि देश को इन दो हफ्तों में दूसरी बार समुंद्री तूफान का सामना करना पड़ रहा है. पहला तूफान अम्फान तूफान ने पश्चिम बंगाल और ओडिशा में तबाही मचाई थी. अब चक्रवाती तूफान निसर्ग थोड़ी देर में अलीबाग के तट से टकराने की उम्मीद है.


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here