Madhya Pradesh : गुना में पुलिस ने किसान परिवार के साथ की बर्बरता

0
512
गुना में एक किसान परिवार की मध्यप्रदेश पुलिस ने बर्बरता से पिटाई की
गुना में एक किसान परिवार की मध्यप्रदेश पुलिस ने बर्बरता से पिटाई की

नई दिल्ली/आशीष भट्ट। Madhya Pradesh के गुना में मंगलवार को अतिक्रमण हटाने के लिए गई पुलिस ने किसान दंपति की लाठियों से पिटाई कर दी. इसके बाद आहत किसान ने ज़हर खाकर आत्महत्या करने की कोशिश की.

बताया जा रहा है कि इनके पास रहने को घर नहीं था. सरकारी ज़मीन पर टेंट डाल कर रह रहे थे. Madhya Pradesh के गुना ज़िले की पुलिस ने अतिक्रमण हटाने के नाम पर इन्हें बेघर किया और बुरी तरह से मारा पीटा. घटना का वीडियो सामने आने के बाद राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गुना के कलेक्टर और एसपी को तुरंत हटाने का निर्देश दिया है. इसके अलावा उन्होंने घटना की उच्चस्तरीय जांच के आदेश दिए हैं.

Madhya Pradesh
Madhya Pradesh

वहीं सूबे के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने वीडियो जारी कर कहा, ‘गुना के कैंट थाना क्षेत्र की घटना का वीडियो देखकर व्यथित हूं। इस तरह की दुर्भाग्यपूर्ण घटनाओं से बचा जाना चाहिए। मुख्यमंत्री ने तत्काल अधिकारियों को उच्चस्तरीय जांच के निर्देश दिए हैं, भोपाल से जांच दल मौके पर जाकर पूरी घटना की जांच करेगा. इसके बाद जो भी दोषी पाया जाएगा, उस पर कार्रवाई करेंगे।’

इस पर Madhya Pradesh के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने शिवराज सरकार पर निशाना साधा है कमलनाथ ने 3 ट्वीट किए अपने पहले ट्वीट में कमलनाथ ने लिखा ये शिवराज सरकार प्रदेश को कहाँ ले जा रही है ?
ये कैसा जंगल राज है ?
गुना में कैंट थाना क्षेत्र में एक दलित किसान दंपत्ति पर बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों द्वारा इस तरह बर्बरता पूर्ण लाठीचार्ज.

दूसरे ट्वीट में कमलनाथ ने लिखा यदि पीड़ित युवक का ज़मीन सम्बंधी कोई शासकीय विवाद है तो भी उसे क़ानूनन हल किया जा सकता है लेकिन इस तरह क़ानून हाथ में लेकर उसकी,उसकी पत्नी की,परिजनो की व मासूम बच्चो तक की इतनी बेरहमी से पिटाई,यह कहाँ का न्याय है?
क्या यह सब इसलिये कि वो एक दलित परिवार से है,ग़रीब किसान है?

तीसरे ट्वीट नें कमलनाथ ने लिखा क्या ऐसी हिम्मत इन क्षेत्रों में तथाकथित जनसेवकों व रसूख़दारों द्वारा क़ब्ज़ा की गयी हज़ारों एकड़ शासकीय भूमि को छुड़ाने के लिये भी शिवराज सरकार दिखायेगी ?
ऐसी घटना बर्दाश्त नहीं की जा सकती है। इसके दोषियों पर तत्काल कड़ी कार्यवाही हो , अन्यथा कांग्रेस चुप नहीं बैठेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here