पीएम नरेन्द्र मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री नरसिम्हा राव को उनकी जन्म शताब्दी पर दी श्रद्धांजलि

0
192

नई दिल्ली/काजल गुप्ता। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रेडियो पर मन की बात कार्यक्रम के जरिए देश को संबोधित किया है. इस दौरान पीएम नरेन्द्र मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री नरसिम्हा राव की जन्म शताब्दी पर उन्हें याद करते हुए श्रद्धांजलि दी. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आगे कहा कि मेरे प्यारे देशवासियों आज 28 जून को भारत अपने एक भूतपूर्व प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हा राव को श्रद्धांजलि दे रहा है. जब भी हम नरसिम्हा राव की बात करते है तो स्वभाविक रूप से उनकी राजनेता के रूप में चावी सामने आ जाती है. नरसिम्हा राव जिसने नाजुक समय में, नाजुक दौर में देश का नेतृत्व किया था. आज 28 जून को नरसिम्हा राव के जन्म शताब्दी के वर्ष के शुरुआत का दिन है. नरसिम्हा राव की यह भी सच्चाई है कि वे अनेक भाषाएं जानते थे. भारतीय भाषा के साथ साथ विदेशी भाषा भी जानते थे और बोलते भी थे. जहां नरसिम्हा राव एक ओर भारतीय मूल्यों में रचे बसे थे तो वहीं दूसरी ओर उन्हें विज्ञान और पाश्चात्य साहित्य का भी ज्ञान था.

ये भी पढ़ें सुशांत की मौत पर बीजेपी सांसद निशिकांत दूबे ने की SIT बनाकर जांच कराने की मांग

पीएम नरेन्द्र मोदी ने आगे कहा कि पीवी नरसिम्हा राव अपनी किशोरावस्था में ही स्वतंत्रता आंदोलन में शामिल हो गए थे. नरसिम्हा राव ने छोटी उम्र से, बचपन से ही अन्याय के खिलाफ आवाज उठाने में आगे रहते थे. अपनी आवाज हमेशा बुलन्द रखते थे. भारत के सबसे अनुभवी नेताओं में से एक थे लेकिन, उनके जीवन का एक और पहलू भी है, और वो उल्लेखनीय है, हमें जानना भी चाहिए. उन्होंने केवल 17 साल की उम्र में आंदोलन में हिस्सा लिया था क्योंकि हैदराबाद के निजाम ने वंदे मातरम गाने की अनुमति देने से इन्कार कर दिया था तो उन्होंने उनके खिलाफ आंदोलन में भी सक्रिय रूप से हिस्सा लिया था बिना किसी से डरे. नरसिम्हा राव इतिहास को भी बहुत अच्छे से जानते थे. पीएम मोदी ने कहा मेरा आग्रह है कि नरसिम्हा राव के जन्म-शताब्दी वर्ष में उनके जीवन और विचारों के बारे में ज्यादा-से-ज्यादा जानने का प्रयास करे. मैं, एक बार फिर उन्हें अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं.

ये भी पढ़ें मन की बात में पीएम मोदी ने चीन को दिया करारा जवाब, पढ़ें पीएम ने क्या कहा

पूर्व प्रधानमंत्री नरसिम्हा राव को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी उनकी जन्म शताब्दी पर श्रद्धांजलि दी. उन्होंने कहा, ‘भारत की प्रगति में उनके उल्लेखनीय योगदान के लिए उन्हें हमेशा याद किया जाएगा.’

बता दे कि कांग्रेस नेता नरसिम्हा राव देश के नौवें प्रधानमंत्री थे. नरसिम्हा राव का कार्यकाल 1991 से 1996 तक चला था. उस समय मनमोहन सिंह वित्त मंत्री थे, जो बाद में देश के प्रधानमंत्री बन गए थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here